<%@ Language=VBScript %>
  
भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय

प्रकाशक का कर्त्तव्‍य

प्रेस एवं पुस्‍तक पंजीकरण अधि‍नि‍यम तथा संबंधि‍त नि‍यमों द्वारा दि‍ए गए कर्त्तव्‍यों की अनुपालना को सुनि‍श्‍चि‍त करके समाचारपत्र प्रकाशक तथा मुद्रक, भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय को अपने क्रि‍या कलापों को बेहतर तरीके से चलाने के लि‍ए मदद कर सकते हैं । उनको यह भी सुनि‍श्‍चि‍त करना होगा कि‍ जब कभी भी वह इस कार्यालय से कोई सेवा लेना चाहें तब उनको मुहैया कराने की सभी जरूरतें आवेदन स्‍तर पर ही पूरी होनी चाहि‍ए ।

1. 1. प्रेस पंजीयक को समाचारपत्र की प्रति‍यां की सुपुर्दगी

समाचारपत्र पंजीयन(केन्‍द्रीय) नि‍यम, 1956 के अनुसार समाचारपत्र के प्रकाशन के 48 घंटे के भीतर अंक की एक प्रति‍ प्रेस पंजीयक को डाक अथवा मेसेंजर द्वारा भेजी जानी है । समान घोषणापत्र के अंतर्गत प्रकाशि‍त बहु संस्‍करण समाचारपत्रों के मामलों में, प्रत्‍येक संस्‍करण की एक प्रति‍ भेजना अनि‍वार्य है यदि‍ खुदरा वि‍क्रय मूल्‍य अथवा एक संस्‍करण में पृष्‍ठों की संख्‍या भि‍न्‍न है । 

अंग्रेजी, हि‍न्‍दी अथवा उर्दू अथवा नि‍म्‍न उल्‍लि‍खि‍त भाषाओं के अलावा अन्‍य भाषाओं में प्रकाशि‍त समाचारपत्रों की प्रति‍यां प्रेस पंजीयक, भारत के समाचारपत्रों के पंजीयक का कार्यालय , पश्‍चि‍मी खंड 8, आर.के.पुरम, नई दि‍ल्‍ली 66 को भेजना है ।

नि‍म्‍नलि‍खि‍त भाषाओं में प्रकाशि‍त समाचारपत्रों के प्रेस सूचना ब्‍यूरो को उनके नाम के सामने दर्शाए गए स्‍थान पर भेजना है:     

पंजाबी जालंधर
बंगाली कोलकाता
उड़ीया कोलकाता
असमि‍या कोलकाता
तमि‍ल चेन्‍नई
तेलूगु   हैदराबाद
मलयालम कोचीन
मराठी मुंबई
कोंकणी मुंबई
पुर्तगाली मुंबई
गुजराती अहमदाबाद
कन्‍नड़ बैंगलोर
कश्‍मीरी श्रीनगर

पी.आई.बी. कार्यालयों के पते अनुलग्‍नक IXमें दि‍ए गए हैं ।

2. समय पर वार्षिक वि‍वरण जमा करना ।

सभी प्रकाशक , समाचारपत्र से संबंधि‍त वार्षिक वि‍वरण प्रेस पंजीयक को देंगे । वि‍वरण, समाचारपत्र पंजीयन (केन्‍द्रीय ) नि‍यम, 1956 की अनुसूची में फार्म ।। के रूप में दि‍ए गए प्रपत्र में भरना है ।    

वि‍वरण, वि‍त्‍तीय वर्ष के आधार पर होगा तथा इसे आगामी वर्ष के मई माह के अंति‍म दि‍न अथवा उससे पहले प्रेस पंजीयक तक पहूंचना चाहि‍ए ।

जहां समाचारपत्र का प्रसार प्रति‍ प्रकाशन दि‍वस 2000 प्रति‍यां हो वहां वार्षिक वि‍वरण के साथ चाटर्ड एकांउटेंट अथवा योग्‍यता प्राप्‍त लेखा परीक्षक द्वारा नि‍र्धारि‍त प्रपत्र के भाग ‘ ख ’ में, जैसा कि‍ नीचे दि‍या गया है, प्रमाण पत्र प्रस्‍तुत करना है ।

समय पर वार्षिक वि‍वरण न जमा करने पर पी.आर.बी. अधि‍नि‍यम के अंतर्गत दंडनीय कार्रवाई के भागी होंगे ।

नोट: प्रत्‍येक वर्ष प्रेस पंजीयक को देश में प्रेस की स्‍थि‍ति‍ संबंधी एक रि‍पोर्ट सरकार को प्रस्‍तुत करना होता है जोकि‍ मुख्‍यत: वार्षिक वि‍वरण पर आधारि‍त है । इसलि‍ए समाचारपत्र वार्षिक वि‍वरण, प्रपत्र ।। में पूर्ण व सही जानकारी मुहैया कराएं । दैनि‍क समाचारपत्र द्वारा पूर्ण एवं सही जानकारी देते हुए एक अलग वि‍वरण भी प्रस्तुत करना अनि‍वार्य है ।    

3. स्‍वामि‍त्‍व वि‍वरण:

प्रत्‍येक वर्ष, फरवरी के अंति‍म दि‍न के बाद के प्रथम अंक में स्‍वामि‍त्‍व तथा समाचारपत्र के अन्‍य वि‍वरणों के संबंध में वि‍वरण, समाचारपत्रों का पंजीयन(केन्‍द्रीय) नि‍यम, 1956 की अनुसूची में फार्म IV के रूप में दि‍ए गए प्रपत्र में, प्रकाशि‍त करना है ।

4. बंद करने संबंधी घोषणापत्र दाखि‍ल करना

यदि‍ कोई व्‍यक्‍ति‍ समाचारपत्र का मुद्रक अथवा प्रकाशक नहीं है तो वह कि‍सी मजि‍स्‍ट्रेट (जि‍ला,प्रेसीडेंसी, उप मंडल) के समक्ष प्रस्‍तुत होंगे तथा दो प्रति‍यों में नि‍म्‍नलि‍खि‍त घोषणा करेंगे ।

मैं यह घोषणा करता हैं कि‍ नामक समाचारपत्र का मुद्रक अथवा प्रकाशक (अथवा मुद्रक तथा प्रकाशक) नहीं हूं । प्रकाशक समाचारपत्र के प्रकाशन को बंद करने के मामले में, शीर्षक के स्‍वामी अथवा उनके द्वारा प्राधि‍कृत व्‍यक्‍ति‍ द्वारा घोषणा कि‍या जाना है ।

ऐसा नहीं करने पर पी.आर.बी.अधि‍नि‍यम के अंतर्गत दण्‍डनीय कार्रवाई के भागी होंगे ।

घोषणा को मजि‍स्‍ट्रेट अधि‍प्रमाणि‍त करेंगे तथा मुद्रक/प्रकाशक उसकी अनुप्रमाणि‍त प्रति‍ प्रेस पंजीयक को अग्रेषि‍त करेंगे ।

5. अखबारी कागज के आयात हेतु वि‍वरणी जमा करना

समाचारपत्र के प्रकाशक /स्‍वामी 30 सि‍तम्‍बर को समाप्‍त अवधि‍ के लि‍ए अर्थवार्षिक वि‍वरणी उसी वर्ष के 31 अक्‍टूबर तक तथा 31 मार्च को समाप्‍त अवधि‍ के लि‍ए वार्षिक वि‍वरणी 30 अप्रैल तक जमा करेंगे जि‍समें संबंधि‍त अवधि‍ के दौरान खरीदी/ खपत की गई आयाति‍त अखबारी कागज की मात्रा दर्शाई गई हो । अर्ध वार्षिक वि‍वरणी प्रकाशक/स्‍वामी द्वारा तथा वार्षिक वि‍वरणी चार्टड एकाउंटेंट द्वारा प्रमाणि‍त होना चाहि‍ए । 

समय पर वि‍वरणी न जमा करने पर अथवा गलत जानकारी देने पर अखबारी कागज के आयात हेतु पंजीयन प्रमाणपत्र के अधि‍प्रमाणन के लि‍ए समाचारपत्र को रद्द कर दि‍या जाएगा ।

प्रकाशक से वांछि‍त आवधि‍क जानकारी/वि‍वरणी

  1.  के 48 घंटे के भीतर समाचारपत्रों की प्रति‍यां प्रेस पंजीयक को भेजना ।  

  2.  फार्म ।।में वांछि‍त वार्षिक वि‍वरणी ।  

  3. फार्म IV में समाचारपत्र के बारे में स्‍वामी का वि‍वरण और अन्‍य ब्‍यौरा  

  4. अनुलग्‍नक Xमें यथा उल्‍लि‍खि‍त दैनि‍क प्रेस का वि‍वरण ।  

  5. आयाति‍त अखबारी कागज इस्‍तेमाल करने वाले प्रकाशक को अनुलग्‍नक VIII में यथा उल्‍लि‍खि‍त आयाति‍त अखबारी कागज के खरीद और खपत के संबंध में वि‍वरणी भी प्रस्‍तुत करनी होगी ।